logo Stay Connected Follow Sadhviji online to find out about her latest satsangs, travels, news, writings and more.
Sign up for our newsletter

“Spirit of Life”, Dainik Jagran

May 26 2020

“Spirit of Life”, Dainik Jagran

करते हैं कि हम सबको भगवान् ने ही बनाया है | फिर अपनी ही इन्द्रियों को वश में करने के लिए ध्यान करना क्यों आवश्यक है | भगवान् ने ही हमें देखने के लिए आँखें, सुनने के लिए कान, स्मेल करने के लिए नाक, स्पर्श करने के लिए हाथ, स्वाद लेने के लिए जीभ दी है, तो इनपर नियंत्रण के लिए ध्यान की आवश्यकता क्यों है?

Share Post
Tags: